Contact Information

Logix Technova B-511
Sector-132, Noida

We Are Available 24/ 7. Call Now.

New Delhi: 27 दिसंबर को बॉलीवुड के दबंग खान सलमान खान का जन्मदिन है. सेलिब्रिटी हो या नेता या फिर कोई क्रिकेटर हर किसी के पास बड़ा घर और लग्जरी कारें होती हैं… हर किसी को यही सब दिखाई देता है. लेकिन जो दिखाई नहीं देता वो है इन सबके पीछे की गई मेहनत. हमें ये बात पता ही नहीं होता है कि आखिर बड़ा घर और लग्जरी कार को उन्होंने कैसे कमाया. उसके पीछे क्या राज है? ये वो सबकुछ है जिसे हर कोई हासिल करना चाहता है. अगर आप सोचते हैं कि उन्होंने ये सब कुछ बड़ी आसानी से पाया तो आप तो आप गलत हैं. दोस्तों इसके पीछे सिर्फ उनकी कड़ी मेहनत छिपी है.

आज हम आपको सलमान खान के बारे में कुछ ऐसी बातें बताना चाहते हैं जो आपको उन्हें देखने का नजरिया ही बदल देगा. सलमान खान ने अपने करियर के लिए कड़ी से कड़ी मेहनत की है. आइए आज आपको बताते हैं सलमान खान के बारे में वो बातें जो उनके फैंस जानना चाहते हैं.

भाईजान अपनी मेहनत और हुनर के दम पर आज बॉलीवुड पर राज कर रहे हैं. आज सलमान खान के पास गाड़ी है, बंगला है, बॉडीगार्ड है. अपने स्टार की एक झलक पाने के लिए लोग बेताब हैं. लेकिन एक वक्त ऐसा भी था जब भाईजान 19 साल की उम्र में फिल्मों की तलाश में थे.

करियर के लिए नहीं लिया पिता के नाम का सहारा

सलमान खान के पिता काफी मशहूर थे, वे एक स्क्रिप्ट राइटर थे. खास बात ये है कि सलमान खान को उनके पिता के नाम पर ही काम मिल सकता था, लेकिन उन्होंने अपने करियर के लिए कभी भी अपने पिता के नाम का सहारा नहीं लिया. हालांकि, सलमान खान के पिता का कहना था कि वो हीरो बनने लायक नहीं हैं. अगर देखा जाए तो सलमान खान के करियर के पीछे उनके पिता का बहुत बड़ा हाथ हैं. अगर सल्लू भाई को पिता का समर्थन मिला होता, तो शायद आज उनका वो रूतबा नहीं होता, जो आज है. अच्छा हुआ कि सल्लू भाई को पिता का समर्थन नहीं मिला..हां लेकिन भाई के हर एक कदम में वो उनके साथ थे.

कई बार ऑडिशन से रिजेक्ट हुए थे

आज भी निकिता बिल्डिंग है जहां भाईजान ने अपनी किस्मत आजमाने के लिए कई बार काम किया था.. उस समय भाईजान निश्चित रूप से परेशानी में थे… लेकिन यह निश्चित रूप से सोचा था कि जो लोग इस दिन मुझे निष्कासित कर रहे हैं, एक दिन वे मेरे साथ काम करना पसंद करेंगे..

सलमान खान कई ऑडिशन से बाहर कर दिए जाते थे. धीरे-धीरे उन्हें भी लगने लगा था कि शायद उनमें कोई कमी है, इसलिए सल्लू को हर ऑडिशन से बाहर कर दिया जाता है. लेकिन कहते हैं ना सफलता के लिए सच्ची भावना और जुनून होना बेहद आवश्वयक है. और वही सफलता ने सलमान को सुपरस्टार के लिए एक संघर्षशील सितारा बना दिया. और अब करोड़ों रुपए में खेलते हैं.

कभी मारुति की जीप चलाते थे भाईजान

सलमान खान के बारे में ये भी खबर है कि वो कभी मारुति की जीप चलाते थे. लेकिन आज उनके पास बुगाटी जैसी लग्जरी गाड़ी है, जिसे खरीदने के लिए लोग तरस रहे हैं.. सलमान शुरुआती चरण में 18 घंटे काम करते थे और कभी-कभी समय की कमी के कारण, उन्हें रात और रात काम करना पड़ता था..

सलमान को काम की वजह से नींद नहीं आती थी और वह काम पर जाते ही सो जाते थे… धीरे-धीरे उनके जीवन में मुसीबतों का प्रवेश शुरू हुआ. कभी काले हिरण केस का मामला तो कभी हिट एंड रन के मामले में उन्हें जेल जाना पड़ा. कभी फिल्म फ्लॉप हो रही थी तो कभी गर्लफ्रेंड से ब्रेकअप की खबरें.. ऐसे में वह लोगों की नजरों से उतरने लगे थे, मानों उनका करियर खत्म होने वाला था. लोगों ने उन्हें बुराई की नजरों से देखना शुरू कर दिया था. लेकिन कहते हैं कि ऊपर वाला सफल बनाने से पहली स्थायी रूप से आपकी परीक्षा लेता है. इन मुसीबतों ने सलमान खान को इतना मजबूत बना दिया की हर मुसीबतों को आसानी से पार कर गए.

टाइगर का नाम ही काफी

अभिनेता, निर्देशक कहते थे कि वे अभिनेता बनने में सक्षम नहीं होंगे, लेकिन इस दिन बॉलीवुड में सलमान का नाम सर्वश्रेष्ठ है.. लोग कहते थे कि भाईजान में कोई स्टाइल नहीं है, इस दिन लोग सलमान के स्टाइल को क्रेजी की तरह फॉलो करते हैं. लोग कहते थे कि सलमान एक फ्लॉप एक्टर हैं लेकिन इस दिन भाईजान की फिल्म देखने वालों की भीड़ है.. अगर फिल्म में कोई कहानी नहीं है, अगर फिल्म में कुछ देखने लायक नहीं है, तो भी फिल्म सलमान के नाम से चलती है. सल्लू की फिल्म यकीनन 100 करोड़ के पार जाएगी. छोटी फिल्म हिट हो जाती है क्योंकि इसमें टाइगर का नाम ही काफी है.

बिना नहाए सेट पर जाते थे

सलमान के बारे में एक बात काफी वायरल हुआ था वो ये कि वो अक्सर बिना नहाए ही सेट पर आ जाते थे. वह अपनी वैन में या सेट पर फ्रेश हो जाया करता थे.

सल्लू नहीं पढ़ते अपनी फिल्मों की समीक्षा

मुंबई के सेंट जेवियर्स कॉलेज से बाहर होने के बाद सलमान ने एक सहायक निर्देशक के रूप में काम किया.. उन्होंने अभिनय से पहले मॉडलिंग में भी हाथ आजमाया.. आपको बता दें कि भाईजान कभी भी अपनी फिल्मों की समीक्षा नहीं पढ़ते. बाज़ीगर में मुख्य भूमिका निभाने के लिए वह पहली पसंद थे.. एक सूत्र के अनुसार वह कैटरीना कैफ की फिल्में भी नहीं देखते हैं..

35 सफाईकर्मियों को दी थी साड़ी

एक बार की बात है सलमान खान फिल्म वांटेड की शूटिंग कर रहे थे. उस दौरान फिल्मसिटी की महिला सफाईकर्मी उनसे साड़ी मांगने आई थीं.. उन्होंने उनसे स्टूडियो में महिला सफाईकर्मियों की कुल संख्या की गिनती करने के लिए कहा और फिर 35 साड़ियां खरीदने के लिए तुरंत एक यूनिट हाथ में भेजने के लिए कहा..सलमान ने अपनी मां सलमा से पेंटिंग सीखी, जो पहले पेंट करती थी… जब वह शूटिंग नहीं कर रहा होता है, तो वह अपने फार्महाउस पर रहना पसंद करते हैं.

Share:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *