Contact Information

Logix Technova B-511
Sector-132, Noida

We Are Available 24/ 7. Call Now.

New Delhi: पाकिस्तान की खैबर पख्तूनख्वा सरकार ने शनिवार के दिन महान बॉलीवुड अभिनेता दिलीप कुमार और राज कपूर के पैतृक घरों को खरीदने के लिए 2.35 करोड़ रुपये जारी करने को मंजूरी दे दी है और इसके साथ ही इस शहर को राष्ट्रीय विरासत घोषित कर दिया है।

खैबर पख्तूनख्वा के मुख्यमंत्री महमूद खान ने फॉर्मली तौर पर से इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी, जिससे कुछ हफ्तों पहले खैबर पख्तूनख्वा संचार और निर्माण विभाग यानी C&W की तरफ से निर्धारित दर पर ही दिलीप कुमार और राज कपूर के पैतृक ‘हवेलियों’ को खरीदने के लिए अधिकारियों को अनुमति दी गई है। पेशावर के डिप्टी कमिश्नर मुहम्मद अली असगर ने संचार और निर्माण विभाग यानी C&W की एक रिपोर्ट के आने बाद से दिलीप कुमार के चार मार्ला यानी 101 वर्ग मीटर घर की कीमत 80.56 लाख रुपये तय की गई है, वहीं राज कपूर के छह मार्ला घर यानी 151.75 वर्ग मीटर की कीमत 1.50 करोड़ रुपये में तय की गई है।

भारत, पाकिस्तान और बांग्लादेश में उपयोग की जाने वाली क्षेत्र की पारंपरिक इकाई मार्ला को 272.25 वर्ग फुट या फिर 25.2929 वर्ग मीटर के बराबर माना जाता है। खरीद के बाद, दोनों घरों को केपी पुरातत्व विभाग की तरफ से एक म्यूजिम में बदल दिया जाएगा। केपी पुरातत्व विभाग ने दोनों ऐतिहासिक इमारतों को खरीदने के लिए 2 करोड़ रुपये से अधिक की रिहाई के लिए प्रांतीय सरकार को औपचारिक अनुरोध भेजा था। जहां भारतीय सिनेमा के दोनो महानायक विभाजन के पहले दिनों में पैदा हुए थे।

3राज कपूर का पैतृक घर, कपूर हवेली के नाम से जाना जाता है, जो कि क़िस्सा ख्वानी बाजार में स्थित है। यह 1918 और 1922 के बीच फेमस एक्टर के दादा दीवान बशेश्वरनाथ कपूर की ओर से बनाया गया था। राज कपूर और उनके चाचा त्रिलोक कपूर इमारत में पैदा हुए थे। प्रांतीय सरकार की तरफ से इस घर को राष्ट्रीय धरोहर घोषित किया गया है। वहीं अभिनेता दिलीप कुमार का घर 100 साल पुराना है, उनका पैतृक घर भी उसी इलाके में स्थित है। यह घर जर्जर है और 2014 में तत्कालीन नवाज शरीफ सरकार द्वारा राष्ट्रीय धरोहर घोषित किया गया था।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *